बैद्यनाथ गर्भपाल रस के फायदे व नुकसान पूरी जानकारी | Baidyanath Garbhpal Ras Benefits in hindi

नमस्कार इस लेख मैं आपको बताऊंगा की  बैद्यनाथ गर्भपाल रस के फायदे (Baidyanath Garbhpal Ras Benefits in hindi ) अगर आप बैद्यनाथ गर्भपाल रस का प्रयोग करते हैं या फिर आप  बैद्यनाथ गर्भपाल रस का इस्तेमाल करना चाहते हैं। तो आप जानना चाहते होंगे की सिरप के क्या सच में बहुत अच्छे फायदे देखने को मिलते हैं और यह सिरप पूर्णता आयुर्वेदिक सिरप है।

बैद्यनाथ गर्भपाल रस का उपयोग मुख्यता गर्भावस्था में किया जाता है गर्भावस्था में उल्टी मतली एवं चक्कर को रोकने के लिए इसका उपयोग किया जाता है और शरीर के कई रोगों को खत्म करने के लिए भी उपयोग किया जाता है और बैद्यनाथ गर्भपाल रस आयुर्वेदिक रस है। तो इस लेख में हम आज hindihealthcare.com के माध्यम से इस सिरप के बारे में विस्तार से बताएंगे-

बैद्यनाथ गर्भपाल रस के फायदे | Baidyanath Garbhpal Ras Benefits in Hindi

  1. मुख्य रूप से बैद्यनाथ गर्भपाल रस का उपयोग गर्भपात( मिसकेरेज ) गर्भस्राव को रोकने के लिए इस आयुर्वेदिक का उपयोग किया जाता है।
  2. महत्वपूर्ण जानकारी बता दें कि इस बैजनाथ गर्भपाल रस का उपयोग इसलिए किया जाता है कि अगर कोई भी महिला का गर्भाशय कमजोर हो या फिर उसका गर्भपात होता हो या फिर उसे गर्भपात होने के लक्षण लग रहे हो तो उसके लिए बैद्यनाथ गर्भपाल रस बहुत ही फायदेमंद है।
  3. बैद्यनाथ गर्भपाल रस का उपयोग मुख्य रूप से तब किया जाता है जब पति का वीर्य विकारी होने की स्थिति में भी गर्भपात करने की संभावनाएं नहीं रहती है । साथ-साथ उपदंश या सूजाक जैसी महामारी रोगो के कारण गर्भाशय में विकृतता आ जाने के कारण गर्भधारण में समस्या होती है या फिर गर्भ धारण नहीं ठहरता या फिर मिसकैरेज हो जाता है ठहरने के बाद तो इस समस्या में भी यह अत्यंत लाभकारी है ।
  4. बैद्यनाथ गर्भपाल रस गर्भवती महिलाओं को उल्टी होने से एवं मतली आने से और कमजोरी लाने से रोकने में अत्यंत महत्वपूर्ण फायदे निभाता है और गर्भवती महिलाओं की भूख बढ़ाने में मदद करता है जिससे भूख अच्छी लगने लगती है और भोजन से पोषक तत्व निकाल कर शरीर को देने लगता है जिससे गर्भ में पल रहा बच्चा भी स्वस्थ रहता है एवं उसकी मां भी स्वास्थ्य रहती है।
  5. सबसे महत्वपूर्ण भूमिका यह गर्भवती महिला के पेट में पल रहे बच्चे के पालन पोषण एवं उसको पूर्ण विकसित करने में एवं उसे स्वस्थ रखने में बैद्यनाथ गर्भपाल रस महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और वजन बढ़ाने में बहुत ही अच्छा फायदा प्रदान करता है।

बैद्यनाथ गर्भपाल रस के नुकसान | Baidyanath Garbhpal Ras Side Effacts in hindi

बैद्यनाथ गर्भपाल रस बहुत ही दुर्लभ आयुर्वेदिक औषधियों विनिर्मित है और आयुर्वेदिक औषधियों के कोई भी नुकसान देखने को नहीं मिलते।

तो हम बात करते हैं बैद्यनाथ गर्भपाल रस के नुकसान के बारे में आपको बता दें कि चिकित्सा साहित्य में बैद्यनाथ गर्भपाल रस के कोई भी नुकसान देखने को नहीं मिलें है लेकिन आप को मामूली से नुकसान देखने को मिल सकते हैं जैसे उल्टी आना चक्कर आना अगर आपको कोई भी नुकसान के लक्षण लगे तो डॉक्टर से तुरंत सलाह लें और यह बात ध्यान रखें कि बैद्यनाथ गर्भपाल रस का प्रयोग पहले डॉक्टर की सलाह लेकर ही करें।

बैद्यनाथ गर्भपाल रस से संबंधित चेतावनी-

  1. बैद्यनाथ गर्भपाल रस का उपयोग डॉक्टर की सलाह लेकर ही करें।
  2. बैद्यनाथ गर्भपाल रस को उतना ही ले जितना आप का डॉक्टर खुराक के रूप में बताएं।
  3. बैद्यनाथ गर्भपाल रस को शुष्क एवं ठंडी एवं स्वच्छ जगह पर रखें।
  4. सबसे महत्वपूर्ण चेतावनी है कि बच्चों की पहुंच से दूर ही रखें।

बैद्यनाथ गर्भपाल रस में प्रयोग सामग्री-

  1. पीपल-10gm
  2. धनिया-10gm
  3. काला जीरा -10gm
  4. चव्य -10gm
  5. मुनक्का-10gm
  6. देवदारू-10gm
  7. दालचीनी-10gm
  8. तेजपत्ता-10gm
  9. इलायची -10gm
  10. सोंठ -10gm
  11. काली मिर्च -10gm
  12. पीपल -10gm
  13. शुद्ध सिंगरफ- 10gm
  14. नाग भस्म शत पुटी -10gm
  15. वंग भस्म -10gm
  16. दालचीनी -10gm

बैद्यनाथ गर्भपाल रस की सेवन विधि | Baidyanath Garbhpal Ras Dosage in Hindi

  • बैद्यनाथ गर्भपाल रस की 2 गोलियां सुबह-शाम लेनी है।
  • बैद्यनाथ गर्भपाल रस आप खाना खाने के बाद या फिर खाना खाने से पहले भी ले सकती है।
  • बैद्यनाथ गर्भपाल रस को आप कभी भी कोई भी समय ले सकती हैं।
  • बैद्यनाथ गर्भपाल रस का उपयोग दो बार से ज्यादा ना करना है।
  • बैद्यनाथ गर्भपाल रस को कम से कम 2 से 3 महीने तक लेना है।
- Advertisement -

मैं आशा करता हूं कि आप को मेरी यह Baidyanath Garbhpal Ras की पोस्ट बहुत ही अच्छी लगी होगी और इसमें बताई गई जानकारी आपको समझ में आ ही गई होगी लेकिन इसका उपयोग अपने जिम्मेदारी पर ही करें और इसके बारे में आपको जो कुछ भी समझ में ना आया हो तो कमेंट करके हमें बताएं और अपने आसपास में व्हाट्सएप द्वारा शेयर जरूर करें अगर आप दवाइयों से जुड़ी कोई भी जानकारी चाहते हो तो हमें कमेंट बॉक्स में लिखकर एक बार जरूर भेजें।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest article

related article