लुलिफ़ोर्ड क्रीम के उपयोग नुकसान संबधित चेतनानी | Luliford Cream uses in Hindi

नमस्कार साथियों हम इस पोस्ट में बात करने वाले हैं कि इस क्रीम को कैसे उपयोग किया जाता है इसके नुकसान क्या है और उपयोग करते समय क्या सावधानियां बरतनी है और आपको इसके क्या फायदे देखने को मिलेंगे इस क्रीम को कब और किस समय प्रयोग करना है इस क्रीम से जुड़े सारे सवालों के के जवाबों की जानकारी दी जाएगी और इस क्रीम को Leeford Healthcare Ltd. कंपनी बनाती है पूरी जानकारी के लिए बने रहिए Hindihealthcare.com पर जिसमें आपको लुलिफ़ोर्ड (Luliford Cream Uses In Hindi) क्रीम के बारे में पूरी जानकारी दी जाएगी विस्तार से-

लुलिफ़ोर्ड क्रीम के उपयोग | Luliford Cream Uses In Hindi

इस क्रीम का प्रयोग मुख्यता शरीर में होने वाली इंफेक्शन को दूर करने के लिए इस क्रीम का प्रयोग किया जाता है जो इस क्रीम के प्रयोग निम्नलिखित हैं-

  • फंगल इन्फेक्शन
  • एथलीट फुट
  • पापड़ी दार त्वचा
  • दाद, खाज, खुजली
  • रिंगवॉर्म

लुलिफ़ोर्ड क्रीम के नुकसान | Luliford Cream Side Effects In Hindi

मैं आपको बता दूं कि यह क्रीम के फायदे होते हैं तो उसके कुछ ना कुछ नुकसान देखने को मिल ही जाते हैं जो इसी तरह आपको भी लुलिफोर्ड क्रीम के नुकसान देखने को मिल सकते हैं जो नुकसान निम्नलिखित हैं-

  • रूखी त्वचा
  • त्वचा पर पपड़ी बनाना
  • त्वचा पर छाले होना
  • जलन
  • खुजली
  • त्वचा में जलन होना

लुलिफ़ोर्ड क्रीम उपयोग करने की विधि (खुराक) | Luliford Cream Dosage In Hindi

लुलिफ़ोर्ड क्रीम का प्रयोग करने में आपको उपयोग करने की विधि आना बहुत ही जरूरी है जिससे बहुत ही अच्छी फायदे देखने को मिलेंगे लुलिफ़ोर्ड क्रीम की  विधि निम्नलिखित तरीके से दी गई है-

  1. इस क्रीम का प्रयोग करने से पहले आपको डॉक्टर से परामर्श लेना बहुत जरूरी है डॉक्टर के परामर्श के बिना स्क्रीन का प्रयोग बिल्कुल भी ना करें।
  2. इस क्रीम का प्रयोग डॉक्टर के द्वारा बताई गई विधि के अनुसार ही प्रयोग करें तभी आपको अच्छी फायदे देखने को मिलेंगे।
  3. अगर आप इस क्रीम का प्रयोग कर रहे हैं तो सबसे पहले अपने उस स्थान को अच्छी तरह से साबुन या शैंपू से धोने जिस स्थान पर इस क्रीम का प्रयोग करना है।
  4. इस क्रीम को आप दिन में दो से तीन बार या फिर डॉक्टर के द्वारा बताई गई मात्रा एवं समय अनुसार ही करें।
luliford Cream Uses In Hindi

लुलिफ़ोर्ड क्रीम मे इस्तेमाल साम्रगी-

- Advertisement -

लुलिफ़ोर्ड क्रीम में मुख्यता Luliconazole 1%ww जो फंगल इन्फेक्शन एथलीट फुट को एवं अन्य त्वचा इंफेक्शन को दूर करने में बहुत ही मदद करता है।

लुलिफ़ोर्ड क्रीम की भारत मे कीमत | Luliford Cream Price In India

इस क्रीम की कीमत की बात करें यह क्रीम बहुत ही सस्ते एवं बहुत ही फायदेमंद है जो आपको किसी भी मेडिकल स्टोर बहुत ही आसानी से उपलब्ध हो जाएगी और इसकी कीमत की बात करें तो 140 रुपया 30gm की आती है इसे खरीदने के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें।

Luliford Cream Buy/Online 30gm Cream

लुलिफ़ोर्ड क्रीम (Luliford Cream) से संबंधित चेतावनी-

अगर आप लुलिफ़ोर्ड क्रीम का प्रयोग करते हैं तो आपको कुछ चेतावनी बरतनी होगी जो चेतावनी बरतना बहुत ही महत्वपूर्ण है नीचे चेतावनी विस्तार से दी गई है जो निम्नलिखित हैं-

  1. अगर आप इस क्रीम का प्रयोग करना चाहते हैं या चाहती हैं तो सबसे पहले आपको डॉक्टर से परामर्श लेने की जरूरत पड़ेगी इसके बाद ही आप इस क्रीम को प्रयोग कर सकती हैं नहीं तो यह आपको हानिकारक साबित हो सकती है।
  2. अगर आप इस क्रीम का प्रयोग करना चाहते हैं चाहते हैं तो सबसे पहले आपको उस अंग को धोना होगा जिस जगह पर आपको इस क्रीम का प्रयोग करना है तभी आपको अच्छी फायदे देखने को मिलेंगे और ऐसे क्रीम का प्रयोग खुले घाव पर बिल्कुल भी ना करें यह जलन कर सकती है।
  3. अगर आप एलर्जी से पीड़ित हैं या फिर इस क्रीम का प्रयोग करने से एलर्जी उत्पन्न होती है या हो रही है या लक्षण दिखाई दे रहे हैं तो इस क्रीम का प्रयोग तुरंत ही बंद कर दें और डॉक्टर से सलाह जरूर ले लें क्योंकि एलर्जी और कुछ रोग में भी बदल सकती है।
  4. इस क्रीम से संबंधित सबसे महत्वपूर्ण सावधानी यह है कि इस क्रीम का प्रयोग उसी समय करें एवं उतना ही करें जितना कि आपके डॉक्टर निर्धारित करते हैं उससे ज्यादा बिल्कुल प्रयोग ना करें।
  5. अगर आप स्तनपान कराने वाली महिला या फिर आप गर्भवती महिला हेतु इस क्रीम का प्रयोग करने से पहले इस क्रीम के बारे में पूरी जानकारी ले लें और डॉक्टर से सलाह ले ले तभी इस क्रीम का प्रयोग करें।

नमस्कार तो यह भी Luliford Cream के बारे में संपूर्ण जानकारी आशा करता हूं कि आप सभी को वह जानकारी मिली होगी जिस जानकारी के लिए आप इस ब्लॉग पर आए थे और आपको यह जानकारी बहुत ही अच्छी लगी होगी लेकिन इस क्रीम का प्रयोग आपने जोखिम एवं जिम्मेदारी पर ही करें और ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।Team Hindihealthcare.

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest article

related article