शिलाजीत के फायदे, उपयोग व नुकसान पूरी जानकारी | Silajit benefits in hindi

नमस्कार दोस्तों इस लेख मैं आपको बताऊंगा की  शिलाजीत  के फायदे (Silajit benefits in hindi)  अगर आप शिलाजीत प्रयोग करते हैं या फिर आप  शिलाजीत का इस्तेमाल करना चाहते हैं। तो आप जानना चाहते होंगे की इस औषधि के क्या सच में बहुत अच्छे फायदे देखने को मिलते हैं और यह पूर्णता आयुर्वेदिक औषधि है और इस  इस लेख में हम आज hindihealthcare.com के माध्यम से इसके बारे में विस्तार से बताएंगे-

शिलाजीत के बारे में | Silajit about this in hindi

शिलाजीत एक प्राकृतिक रूप मे पाया जाने वाला खनिज पदार्थ है जो हिमालय और भारतीय उपमहाद्वीप की हिंदुकुश पर्वतमाला में पाया जाता है। ये एक बहुत ही दुर्लभ पदार्थ है जो हजारों वर्षों से  पौधों की सामग्री के विघटन से बनता आया है। शिलाजीत एक गाढ़ा और लसलसेदार पदार्थ होता है और यह शिलाजीत पाउडर कैप्सूल सिरप एवं टेबलेट सभी के रूप में उपलब्ध है पिछले हजारों वर्षों से भारत की पारंपरिक औषधियों में शिलाजीत का इस्‍तेमाल किया जा रहा है।

शिलाजीत के फायदे | Silajit benefits in hindi

शिलाजीत का उपयोग शरीर की कई तरह की बीमारियों को भगाने के लिए प्रयोग किया जाता है जो नीचे आपको विस्तार से बताई गई हैं-

1. दिमाग को फुर्तीला बनाने में शिलाजीत के फायदे

यह शिलाजीत जो दिमाग की शक्ति बढ़ाने अथवा चीजों को स्टोर करने के लिए मस्तिष्क की क्षमता को बढ़ाने में शिलाजीत मदद करता है और पूरे भारतवर्ष में सबको तेज दिमाग होने की आवश्यकता पड़ती है और शिलाजीत तेज दिमाग करने के लिए बहुत ही फायदेमंद अथवा मददगार होता है। मस्तिक को स्वस्थ एवं तरोताजा रखता है वार्य स्मरण शक्ति को भी बढ़ाने में मदद करता है दिमाग के तनाव को भी दूर करने में शिलाजीत बहुत ही फायदेमंद होता है।

2. उच्च रक्तचाप को नियंत्रण में करने के लिए शिलाजीत के फायदे

- Advertisement -

आपने देखा ही होगा कि इस भागदौड़ भरी जिंदगी में लोगों को हाई ब्लड प्रेशर लो ब्लड प्रेशर की समस्याएं वेरी रहती हैं ज्यादातर मोटे लोगों को यह समस्या ज्यादा रहती है तो इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए शिलाजीत बहुत ही फायदेमंद होता है शिलाजीत ब्लड प्रेशर को नियंत्रण में करके शरीर में रक्तचाप को अच्छे से रखता है और शिलाजीत कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रण में करके दिल के दोहरे (हार्ट अटैक) को रोकने में सक्षम रहता है जिससे आपको कभी दिल का दोहरा ना पड़ सकता है।

3. मधुमेह (Diabetes) से छुटकारा दिलाने में शिलाजीत के फायदे-

इस पूरे विश्व भर में मधुमेह से आदे से भी ज्यादा जनसंख्या पीड़ित है और शर्करा के स्तर को नियंत्रण रखने के लिए शिलाजीत बहुत ही ज्यादा प्रभावी होता है अर्थात रक्त में ग्लूकोज एवं लिपिड प्रोफाइल को कम करता है और मधुमेह रूप से बचाने में मदद करता है।

4. कैंसर रोग में शिलाजीत के फायदे

शिलाजीत कैंसर के लिए बहुत ही प्रभावी होता है मेरा कहने का मतलब यह है कि यह यह शिलाजीत यूटरिन कैंसर यर्कत का कैंसर आदि कैंसर रोग में निदान करने में मदद करता है।

5. हार्मोन एवं  इम्यून सिस्टम को बनाए रखने में शिलाजीत के फायदे

शिलाजीत का सबसे बड़ा कार्य है कि यह शरीर में विभिन्न प्रकार के प्रतिरक्षा प्रणाली  नियंत्रित रखता है और हार्मोन को नियंत्रित करके शरीर को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

शिलाजीत के नुकसान | Silajit ke Side Effacts

दोस्तों यह जो प्राकृतिक औषधियां होती है उनके नुकसान तो कम होते हैं लेकिन अगर आप शिलाजीत का प्रयोग जरूरत से ज्यादा करने पर आपको कुछ नुकसान बहुत ठेस पहुंचाने वाले हो सकते हैं शिलाजीत के नुकसान निम्नलिखित हैं-

  1. शिलाजीत में आयरन ज्यादा पाया जाता है जो आपको आयरन से संबंधित बीमारी पैदा कर सकता है।
  2. अगर आप शिलाजीत का प्रयोग जरूरत से ज्यादा करते हैं तो आपको एलर्जी उत्पन्न हो सकती है।
  3. शिलाजीत का जरूरत से ज्यादा उपयोग करने पर आपको उल्टी चक्कर आना आदि रोग उत्पन्न हो सकते हैं।
  4. शिलाजीत में ब्लड प्रेशर को कम करने के गुण पाऐ जाते हैं और जो भी व्यक्ति ब्लड प्रेशर की कोई भी टेबलेट या कैप्सूल लेता है तो वह शिलाजीत का प्रयोग बिल्कुल भी ना करें अगर वह करना ही चाहते हैं तो किसी एक चिकित्सक से एक बार सलाह जरूर ले लें।
  5. शिलाजीत ब्लड शुगर को कम करने में सहायक है इसलिए इसलिए मधुमेह है की दवा के साथ आप शिलाजीत का उपयोग बिल्कुल भी ना कर सकते हैं अगर आप मधुमेह की दवा के साथ इसका उपयोग करते हैं तो किसी एक चिकित्सक से एक बार सलाह जरूर ले ले।
  6. ध्यान रहे आपको यह की शिलाजीत का सबसे बड़ा नुकसान यह है कि अगर शिलाजीत का उपयोग अशुद्ध रूप में किया जाता है तू आपको नशा हो सकता है क्योंकि इसमें माइक्रो टॉक्सिन और  फ्री रेडिकल्स विषैले पदार्थ पाए जाते हैं।

शिलाजीत उपयोग करने की विधि | Silajit Uses in hindi

यह पता ही होगा कि प्राकृतिक औषधि को बड़े ढंग से उपयोग किया जाता है अगर आपको उपयोग करना नहीं आता और आपने उपयोग कर ही लिया तो आपको बड़े पैमाने पर नुकसान देखने को मिल सकते हैं तो हम आपको यह बताएं कि इसको उपयोग कैसे करना है-

  • ध्यान रहे कि आपको शिलाजीत का उपयोग शुरुआत में दिन में 100 मिलीग्राम ही करना है और धीरे-धीरे आपको दिन में दो बार 100 मिलीग्राम करना है।
  • आप शिलाजीत का उपयोग मक्खन के साथ कर सकते हैं।
  • आप शिलाजीत का उपयोग घी के साथ कर सकते हैं।
  • आप शिलाजीत का उपयोग दूध के साथ भी कर सकते हैं।
  • आप शिलाजीत का उपयोग हमेशा ही खाना खाने के बाद सोते टाइम ही करें।
  • आप शिलाजीत का उपयोग जिम करने से पहले 5 मिनट पहले ही करें इसके बाद जिम करने के लिए तैयार हो जाएं।

शिलाजीत उपयोग करते समय सावधानियां

अगर आप शिलाजीत का उपयोग करते हैं तो आपको सबसे पहले यह सावधानियां बरतनी पड़ेगी जो आपको नीचे बताएंगे –

  1. अगर आपका ब्लड प्रेशर बहुत ही कम रहता है तो आप शिलाजीत का उपयोग बिल्कुल भी ना करें।
  2. अगर आपको किसी प्राकृतिक औषधि से एलर्जी होती है तो आप शिलाजीत का उपयोग बिल्कुल भी ना करें।
  3. आपको शिलाजीत का उपयोग करने से पहले अपने स्वास्थ्य संबंधी एवं शारीरिक रूप पर ध्यान देते हुए करना होगा।

शिलाजीत से संबंधित पूछे जाने वाले सवाल जवाब

Q. शिलाजीत का उपयोग नशे की हालत में कर सकते हैं?

Ans. शिलाजीत का उपयोग नशे की हालत में आप बिल्कुल भी ना करें इसका बहुत बुरा प्रभाव हो सकता है।

Q. शिलाजीत का उपयोग गर्भवती महिला कर सकती है?

आपको बता दें कि यह अभी तक शोध नहीं हो पाया है कि गर्भवती महिला शिलाजीत का उपयोग कर सकती हैं या नहीं यह जैसे ही शोध होता है तो मैं आपको यह जानकारी पूरी कर दूंगा।

मैं आशा करता हूं कि आप को मेरी यह पोस्ट बहुत ही अच्छी लगी होगी और इसमें शिलाजीत(Silajit benefits in hindi)के बारे में बताई गई जानकारी आपको समझ में आ ही गई होगी लेकिन इसका उपयोग अपने जिम्मेदारी पर ही करें और इसके बारे में आपको जो कुछ भी समझ में ना आया हो तो कमेंट करके हमें बताएं।

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें

Latest article

related article